Google Panda Update kya hai| Read all Algorithms

दोस्तों आज हम बात करने वाले है गूगल के पांडा अपडेट की? लेकिन उससे पहले मैं भी आप लोगो से पूछना चाहता हु की Google Panda Update Kya Hai ?

शायद आप लोग बिलकुल भी न बता पाओ या फिर इससे पहले भी आप ने थोड़ा बहुत कहि से पढ़ा हो तब भी न बताओ पाओ। तो दोस्तों ऐसा अक्सर आपके साथ ही नहीं हर किसी के साथ होता है।

क्योकि जब भी गूगल कोई नया अपडेट लता है तो उसकी अल्गोरिथ्म्स को खुलकर लोगो के सामने नहीं बताता। और कई बार तो गूगल जब नया अपडेट लाता है तो बिलकुल भी जानकारी नहीं देता। ऐसा क्यों?

Image 1

इस बात पर भी चर्चा करेंगे दोस्तों लेकिन पहले हम जान लेते है की Google Panda Update Kya Hai ? क्यों आया? कब आया?

Google Panda Update 2011 का इतिहास –

सबसे पहले Panda Update को अमेरिका में 23 Februrary 2011 को लांच किया गया था। 11 अप्रैल 2011 को यह अंग्रेजी की सभी भाषाओ के खोज सम्बंधित विषयो के लिए लागु कर दिया गया था।

Korean, Chineseऔर Japanese को छोड़कर अन्य सभी भाषाओ के लिए यह 12 ऑगस्ट 2011 को लागु कर दिया गया था। एक आधिकारिक रिपोर्ट के मुताबिक इंटरनेट की सभी वेबसाइटस Google के Panda Update से 12% प्रभावित हुई थी।

इस अपडेट के आने के एक सप्ताह बाद ही दुनियाभर की वेबसाइटस पर सो के लिए प्रभाव दिखायी दिए थे। इन में से सबसे ज्यादा वो वेब्सीटेस थी जो ज्यादा मात्रा में content Farms यानि की जो बहुत अधिक मात्रा में कंटेंट लिखती थी लेकिन उनका कंटेंट बहुत ही घटिया क्वालिटी का था।

अब जानते है की Google Panda Update Kya Hai? –

Image2

पांडा अपडेट का मुख्य लक्ष्य खोज परिणामो में सुधार था। खोज परिणामो में सुधर से अभिप्राय है की अगर हम बात करे 2009 या 2010 की तो उस समय गूगल की पॉलिसीस इतनी ज्यादा कठोर नहीं थी, और न ही उस समय आज के जितना कॉम्पिटिशन था जिसके चलते लोग किसी भी विषय पर कुछ भी लिखकर गूगल पर डाल देते थे और खोज परिणामो में सबसे ऊपर भी आ जाते थे। जिससे की लोगो को गलत जानकारिया परोसी जा रही थी, तो इसी के चलते गूगल को यह कदम उठाना पडा।

इसीलिए गूगल ने पांडा अपडेट निकाला और किसी भी विषय पर एक बेहतरीन जानकारी प्रदान करने के लिए घटिया क्वीलिटी का कंटेंट प्रदान करने वाली वेबसाइट्स को खोज परिणाम से हटाकर एक अच्छे कंटेंट वाली वेबसाइट्स को सबसे ऊपर रैंकिंग प्रदान की।

इसी प्रकार पांडा अपडेट का मुख्य लक्ष्य अच्छी वेबसाइट्स की छंटनी करके कम या घटिया क्वालिटी के कंटेंट को हटाना था।

पांडा अपडेट के आ जाने से बहुत जल्दी ही SERP (सर्च इंजन रिजल्ट पेज) में बहुत सुधर आया है। यदिगूगल द्वारा पांडा अपडेट नहीं आता तो लोग इसी तरह फर्जी कंटेंट को डालते रहते और इसके साथ-साथ गूगल एडवर्ड से भी लोगो का विश्वास उठ जाता।

इसीलिए कहा भी जाता है की ‘Content Is The King ‘ । आप जो भी अपनी वेबसाइट पर कंटेंट डालते है वो बहुत ही उम्दा क्वालिटी का यानि किसी भी वेबसाइट से कॉपी नहीं किया होना चाहिए, पड़ने वाले को किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए, अच्छे से साफ सुथरा होना चाहिए, जैसी बातो का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

तो दोस्तों उम्मीद करता हु की आपके उन दोनों सवालों (Google Panda Update Kya Hai ? क्यों आया?) का जवाब यहां मिल गया होगा।

वे मुख्य कारण जिन्हे Panda Update बिलकुल भी पसंद नहीं करता –

Thin Content या हिन् सामग्री :- 

हम किसे कह सकते है? तो दोस्तों आपने देखा होगा की कई वेबसाइट्स पर बहुत से आर्टिकल लिखे होते है मगर सभी में एक जैसा ही कंटेंट होता है। या फिर उन्हें पड़ने में कई प्रकार की दिक्कते आती है। तो ऐसे कंटेंट को हिन् सामग्री कह सकते है जो की गूगल बिलकुल भी पसंद नहीं करता।

कंटेंट के मुकाबले उच्च विज्ञापन :-

जब आप किसी वेबसाइट को खोलते हो तो आपने देखा होगा होगा की वह जरुरत से ज्यादा एड्स दिखाई देती है जिससे की पढ़ने वाले को बहुत सी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। या फिर हम Bad User Experience उसे भी कहते है।

निम्न गुणवत्ता की सामग्री :- 

निम्न गुणवत्ता की सामग्री से अभिप्रय है की आप जिस भी विषय पर आर्टिकल लिख रहे है उसमे उस विषय से सम्बंधित जानकारी का आभाव होकर किसी भी अन्य व्यर्थ बाते लिखी होना।

Interlinking Content का बेहतर न होना :-

इंटरलिंकिंग कंटेंट का मतलब है अगर आप किसी भी विषय पर आर्टिकल लिख रहे है तो आपको उसी विषय से सम्बंधित किसी अन्य अच्छे आर्टिकल का लिंक अपने आर्टिकल में प्रदान करना चाहिए ताकि पढ़ने वाले को उसकी समस्या का हल मिल सके।

Heading से सम्बंधित आर्टिकल का न होना :-

कई बार आपने देखा होगा की जब आप कुछ भी सर्च करते है तो आप हैडिंग देखकर आर्टिकल पर क्लिक करते है लेकिन आर्टिकल में आपको वह नहीं मिलता जो आप चाहते हो। तो इस चीज को भी गूगल पांडा अपडेट गलत मानता है।

इसके अलावा भी इन्ही से मिलते-जुलते बहुत से अन्य कारण है जो की पांडा अपडेट की अल्गोरिथ्स के खिलाफ है। जिन्हे जानने के लिए यहाँ क्लिक करे।

यदि आप हमारे द्वारा दी गई अन्य जानकारिओं को पढ़ना चाहते है तो यहां क्लिक करे।

Google Panda Update से प्रभावित वेबसाइट कैसे चेक करे –

वैसे तो दोस्तों ऐसा कोई टूल नहीं है जो की डायरेक्ट ये बता दे की आपकी वेबसाइट पांडा अपडेट से प्रभावित हुई है या नहीं लेकिन आप कुछ एक बातो से समझ सकते है। जैसे की यदि आपकी वेबसाइट में अचानक से आर्गेनिक ट्रैफिक में कमी आती है या फिर एक साथ एक से अधिक पेज रैंकिंग में भरी गिरावट आती है तो आप समझ सकते है की की आपकी वेबसाइट पांडा की चपेट में है।

Google Panda Update से कैसे बचे –

  1. अपनी वेबसाइट पर उपलब्ध फर्जी सामग्री को हटाकर।
  2. निम्न जानकारी के कंटेंट को हटाकर।
  3. ज्यादा विज्ञापन वाली पोस्ट्स में विज्ञापन के रेश्यो को घटाकर।

If you want to know about how to create a free website, Visit Here.

और अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे।

Leave a Comment